5 Best पागलपन -short success motivational story in hindi

आज हम 5 एसे लोग कि succes story जाने गे जो पागलपनसे पुरि भरि है। ये motivationa story in hindi मे पढ्ने के बाद आप जरुर motivate हो जायेगे और पढने के बाद inspire भि हो जायेगे
,चलिये हम जानते है motivationa stories 

Short motivation story in hindi -पागलपन



एक बंदे को उसकी कंपनी बेचने के बाद 1000 करोड़ मिला था। उसने वह सारा पैसा अलग अलग plan में लगा दिया और खुद Rant से रहने लगा, कोई पागल ही कर सकता है। कोई नार्मल इंसान होता तो गाड़ी बंगला खरीदने में बहुत सारा पैसा खर्च कर देता। यह पागल इंसान और कोई नहीं elon musk है। आज वही कंपनी का मालिक है और आज इसकी नेटवर्क है ।140000 करोड़ और यह सब उसके पागलपन का ही नतीजा है ।क्योंकि भीड़ के साथ चलना तो बहुत आसान है। 
success motivational story in hindi -पागलपन



success motivational story in hindi -पागलपन


जिस बंदे को कभी उसकी भारी आवाज की वजह से उसे रिजेक्ट कर दिया गया था उसने जिद पकड़ी वह मुकाम हासिल किया इसके कई लोग सिर्फ सपने ही देखते हैं,में बात कर रहा हु amitabh bachchan की
पहली सुपरहिट मूवी जंजीर आने से पहले उनकी 17 मूवीस फ्लॉप हो चुकी थी। फिर भी उन्होंने अपनी जिद नहीं छोड़ी और आखिरकार कामयाबी को उनके अतीत के आगे झुकना पड़ा। कितना है उसका पागलपन यह तो वक़्त बयां करता है ।

student motivational story in hindi -पागलपन


2006 की बात है विराट कोहली कर्नाटका में रणजी खेल रहा था,और पहले दिन 40 रन बनाकर नॉटआउट रहा शाम को उनके घर से खबर आई थी की उसके पापा का देहांत हो गया है। सब को लगता था कि विराट तुरंत घर के लिए निकलेगा ।और टीम ने यह भी तय कर लिया था कि उसकी जगह पर और कौन खेलेगा। पर दूसरे दिन विराट वही था। और इस हालात उसने सेंचुरी लगाई और अपनी टीम को जिता कर पिताजी के अंतिम संस्कार के लिए निकल गया। इसे पागलपन नहीं तो और क्या कहें, लाखों में किसी एक में ऐसा पागलपन होता है। और कुछ हटके कर जाता है।पागल लोग परसेंटेज में होते हैं।

Moral stories in hindi-पागलपन 


success motivational story in hindi -पागलपन
ऐसे ही पागलपन से भरी हुई कहानी है, dashrath manjhi की क्योंकि वह अपनी पत्नी को वक़्त पर अस्पताल नही पहुंचा पाए। क्योंकि गांव से हॉस्पिटल के पीछे बहुत बड़ा पहाड़ था और इसी वजह से उनकी पत्नी का देहांत हो गया। बंदे को गुस्सा आ गया और इसी गुस्से को उसने अपनी जीत में बदल दिया।और इस बंदे ने केवल छैनी हथोड़े से 22 साल में 55 किलोमीटर का पहाड़ तोड़ दिया।यह पागलपन नहीं तो क्या है,पागलपन तब पैदा होता है,जब दिल टूटता है।कुछ लोग तो इसमें बिखर जाते हैं।पर जो इस दर्द और गुस्से को जिद में बदल देता है,उस बंदे को रोकना नामुमकिन है। 

इसे भी पढिए -Best क्रिस्टियानो रोनाल्डो -Short Motivational story in Hindi for Success

वह पागलपन ही है,जब लोग ट्रिप प्लान कर रहे होते हैं।और कोई बंदा अपना एम्पायर खड़ा करने के लिए प्लान बना रहा होता है। जब सब नौकरी ढूंढने के चक्कर में होते हैं तब कोई पागल नौकरी देने की सोचता है।और ऐसे ही पागल आगे जाकर दुनिया की सोच बदल देते है। ये पागलपन फिर ना सोने देता है,और ना ही रुकने देतस है। ऐसा इंसान कभी शांत नहीं बैठेगा।हजार बार फेल होगा पर उसका पागलपन उसे और एक बार ट्राई करने पर मजबूर करेगा और तब तक मजबूर करेगा जब तक सफलता उसके सामने घुटने न टेक दे।और यही पागल इंसान इतिहास बना देता है।

Short Motivational story in hindi


यकीन नहीं आता तो इसे देख लो।भला कौन बंदा 1000 बार फेल होने के बाद भी कुछ करना नहीं छोड़ता, कोई पागल ही ऐसा कर सकता है । और उसी कारण यह पागल फिर इंसान की दुनिया को रोशन कर देता है।जी हां मैं बात कर रहा हूं thomas alva edison की। 

इसलिए आपको जो भी अच्छा लगता है,जो भी आप करना चाहते हो। उसके लिए पागल बन जाओ और खुद को इतना मजबूत करो कि तककदिर भी आपके सामने हर मैन जाए।अब फैसला आपके हाथ मे है।नार्मल इंसान की तरह जीना हैं या फिर ऐसा कुछ कर जाना हाई की दुनिया याद रखे।तो फिर आज से ही अपने अंदर के पागलपन को जगा लो और चल पड़ा उस राह पर जहाँ तुमको अपनी मंजिल नज़र आती है। किसी सारी दिक्कते आएगी पर अपने पागलपन को बरकरार रखोगे तो मंजिल अपकके कदम चूमेगी।


आशा करता हु आपको ये 5 लोगो कि motivational success stories in hindअछि लगि होगि । अगर आपको ए motivational stories अछि लगि हे तो आप जरुर दुशरे लोगो को शेर किजिए ।

इसे भी पढिए -असल जींदगी- real life Motivational short story in hindi

आभार, जय हिंद

टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां